30.6 C
Jaipur
Monday, May 23, 2022
Homeबिज़नेस‘‘जेसीबी इंडिया ने अपने कर्मचारियों के लिए एक कोविड रिलीफ पैकेज की...

‘‘जेसीबी इंडिया ने अपने कर्मचारियों के लिए एक कोविड रिलीफ पैकेज की घोषणा की, सभी कर्मचारियों को टीका लगवाने का लक्ष्य’’

‘‘जेसीबी इंडिया ने अपने कर्मचारियों के लिए एक कोविड रिलीफ पैकेज की घोषणा की, सभी कर्मचारियों को टीका लगवाने का लक्ष्य’’

दिल्ली। भारत में अर्थमूविंग और कंस्ट्रक्शन इक्विपमेंट के अग्रणी उत्पादक जेसीबी ने आज अपने कर्मचारियों के लिए एक विशेष कोविड रिलीफ पैकेज की घोषणा की है। अप्रैल से अब तक कंपनी की बल्लबगढ़, पुणे और जयपुर में स्थित सुविधाओं में आयोजित कैम्प्स में जेसीबी इंडिया के 2000 से ज्यादा कर्मचारियों और उनके परिवारों को टीके लगाए जा चुके हैं। कंपनी अब सुनिश्चित कर रही है कि भारत में उसके सभी कर्मचारियों को अगले कुछ हफ्तों में टीके लग जाएं।

अप्रैल और मई के बीच, जब दूसरी लहर आई थी, जेसीबी के कारखानों में भी कोविड के मामले बढ़े थे। जेसीबी उन पहली कंपनियों में से एक थी, जिसने वायरस का फैलना रोकने के लिए अपने सभी विनिर्माण कार्यों को अस्थायी रूप से बंद करने का कठोर निर्णय लिया था। कोविड-19 के पॉजिटिव मामलों की निगरानी के लिए कई कोविड कंट्रोल रूम बनाए गए थे। कंपनी ने देश के विभिन्न भागों में अपने सभी कर्मचारियों के लिए टेलीमेडिसिन की सुविधा भी दी थी। उस चरण के दौरान 7600 से ज्यादा टेस्ट हुए थे और जेसीबी ने बेड्स, ऑक्सीजन और एम्बुलेंस की व्यवस्था के अलावा अपने कारखाना परिसरों में कोविड रिलीफ सेंटर भी बनाया था।

इस अवसर पर, सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर दीपक शेट्टी ने कहा, ‘‘पिछले कुछ सप्ताह बड़ी सीख देने वाले थे। हमारे कर्मचारियों और उनके परिवारों के स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिए वर्चुअल तरीके से हमारे सभी व्यवस्थापन संसाधनों का दोहन हुआ था। दुर्भाग्य से, हमारे भी कुछ सहकर्मी वायरस का शिकार हुए, जो दुखद था। हम रिलीफ पैकेज के माध्यम से उनके परिवारों को सहयोग देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं।’’

जेसीबी इंडिया अपने मृत कर्मचारियों के बच्चों की शिक्षा में सहयोग के लिए टर्म इंश्योरेन्स पॉलिसी के बेनेफिट्स के अलावा उनकी स्कूलिंग के लिए प्रति बच्चा हर साल एक लाख रुपए और ग्रेजुएशन के लिए प्रति बच्चा हर साल दो लाख रुपए देगी। उनके परिवारों का मेडिकल बीमा भी 10 साल के लिए बढ़ाया गया है। ठेके पर काम करने वाले कर्मचारियों के लिए तीन लाख रुपए का एकबारगी सहयोग होगा।

इसके अलावा, जेसीबी इंडिया की सीएसआर शाखा अपने से सहयोग प्राप्त स्कूली बच्चों, स्वयं सहायता समूहों और कारीगरों के साथ निकटता से काम कर रही है। उसने कोविड के कारण स्कूल बंद रहने के दौरान स्कूली बच्चों को अनोखे एज्युकेशन एंड न्यूट्रीशन बॉक्सेस से सहायता दी थी। और कई स्वयं सहायता समूहों और कारीगर समूहों के लिए कंपनी इस कठिन समय में उनकी आय बढ़ाना जारी रखेगी। टीकाकरण शिविरों, ऑक्सीजन कंसेन्ट्रेटर्स, मेडिकल और आईसीयू बेड्स के माध्यम से जेसीबी इंडिया उस समुदाय के साथ भागीदारी जारी रखेगी, जिसे वह दो दशकों से ज्यादा समय से सहयोग दे रही है।

उन्होंने कहा, ‘’व्यवसाय के दृष्टिकोण से, हमने बड़ी मजबूती के साथ इस साल की शुरुआत की थी, लेकिन उम्मीद के अनुसार, मई में व्यवसाय बाधित हुआ। हम इस साल की दूसरी छमाही में मजबूत क्षतिपूर्ति की उम्मीद कर रहे हैं। हालांकि, अभी सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण यह है कि हमारे सभी कर्मचारियों और उनके परिवारों को जल्द से जल्द टीका लगे और हम परिचालन को सुरक्षित और स्थायी तरीके से बढ़ाएं।‘’

 

बाबूलाल नागा
बाबूलाल नागाhttps://bharatupdate.com
हम आपको वो देंगे, जो आपको आज के दौर में कोई नहीं देगा और वो है- सच्ची पत्रकारिता। आपका -बाबूलाल नागा एडिटर, भारत अपडेट
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments