10.6 C
Jaipur
Tuesday, December 6, 2022
Homeविविधखेल-खिलाड़ीफटे हुए जूते बेचकर 3,30,000 रुपए जुटाए कोरोना के खिलाफ लड़ाई में...

फटे हुए जूते बेचकर 3,30,000 रुपए जुटाए कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कर दिया डोनेट

भारत अपटेड न्यूज। भारत के युवा गोल्फर अर्जुन भाटी ने कोरोनो वायरस के खिलाफ भारत की लड़ाई में योगदान देना जारी रखा है और अब उन्होंने अपने फटे हुए जूते बेचकर 3,30,000 रुपए जुटाए हैं। यही जूते पहनकर अर्जुन ने 2018 में जूनियर विश्व चैंपियनशिप जीती थी।

ग्रेटर नोएडा के रहने वाले 15 साल के गोल्फर अर्जुन ने इससे पहले अपनी 102 ट्रॉफी बेचकर 4,30,000 रुपए जुटाए थे और यह राशि प्रधानमंत्री राहत कोष में दान दी थी। अर्जुन ने ट्वीट किया,  ‘‘मैंने जिन फटे हुए जूतों के साथ अमेरिका में जूनियर गोल्फ विश्व चैंपियनशिप 2018 जीती थी, वह जूते अंकल वनीश प्रधान ने 3,30,000 रुपए में ले लिए हैं। मैंने यह राशि प्रधानमंत्री राहत कोष में दान कर दी है। हम रहें या ना रहें, मेरा देश रहना चाहिए, कोरोना से सभी को बचाना है।‘‘

अर्जुन ने कहा कि अमेरिका में प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले से एक दिन पूर्व बायें पैर के अंगूठे में चोट लग गई थी। रात में इलाज कराना पड़ा। अंगूठे पर पट्टी बांध दी गई थी। जूते पहनकर खेलने में परेशानी हो रही थी। इस कारण जूते में अंगूठे के पास का थोड़ा हिस्सा काटना पड़ा जिसके बाद जूता पहनने में थोड़ी राहत मिली। चोट लगने के बावजूद प्रतियोगिता में जीत दर्ज की। जूते को अपनी ट्रॉफी के साथ विशेष रूप से संभाल कर रखा गया था। उन्होंने इससे पहले तीन विश्व जूनियर गोल्फ खिताब और एक राष्ट्रीय चैंपियनशिप खिताब सहित अपनी सभी ट्रॉफी पैसा जुटाने के लिए अपने रिश्तेदारों और मित्रों के परिजनों को ऑनलाइन नीलाम कर दी थी।

 

बाबूलाल नागा
बाबूलाल नागाhttps://bharatupdate.com
हम आपको वो देंगे, जो आपको आज के दौर में कोई नहीं देगा और वो है- सच्ची पत्रकारिता। आपका -बाबूलाल नागा एडिटर, भारत अपडेट
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments