30.6 C
Jaipur
Monday, May 23, 2022
HomeUncategorized28 सितंबर से इलाहाबाद से लखनऊ के लिए निकलेगी युवा स्वाभिमान पदयात्रा

28 सितंबर से इलाहाबाद से लखनऊ के लिए निकलेगी युवा स्वाभिमान पदयात्रा

टीम भारत अपडेट, प्रयागराज। युवा स्वाभिमान पदयात्रा की तैयारी के लिए ऑनलाइन मीटिंग संपन्न हुई। जिसमें युवा स्वाभिमान मोर्चा के संयोजक डॉ. आरपी गौतम, सह संयोजक सुनील मौर्य, इंकलाबी नौजवान सभा (इनौस) के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, आइसा के प्रदेश अध्यक्ष शैलेश पासवान, रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव, पीपुल्स एलायंस के शाहरुख अहमद, रविश आलम, बांकेलाल यादव, सहर फातिमा, इमरान अहमद, रविंद्र सिंह, अब्दुल्लाह अंसारी, हर्षित आजाद, विनोद कुमार यादव, पूजा सिंह, सरिता यादव, सतीश सिंह, अजीम मोहम्मद कुलदीप सिंह, मनीष कुमार, सोनू यादव आदि साथी शामिल हुए।

युवा स्वाभिमान मोर्चा के संयोजक आर पी गौतम ने आज की परिस्थिति में नौजवानों के हालात पर बात रखी। उन्होंने कहा कि आज हमारे देश और प्रदेश के मुखिया ही जो बात कहते हैं उससे ही पीछे हट जाते हैं। मुख्यमंत्री के आश्वासनों पर नौजवानों को भरोसा नहीं रहा, उन्होंने 3 महीने में विज्ञापन जारी करने और 6 महीने में भर्ती पूरी करने की बात कही है लेकिन यह पूरी होते हुए नहीं दिखती।

सभी नौजवानों ने एकमत होकर इस दौर में व्यापक आंदोलन विकसित करने पर जोर दिया और इस पदयात्रा से उम्मीद की कि यह इस दिशा में एक ठोस कदम होगा। इसके लिए वैचारिक, आर्थिक सहयोग के साथ सोशल मीडिया पर अभियान चलाने की योजना बनी।

रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव ने कहा कि सरकार युवा विरोधी नीतियों को लागू करने के साथ दमनकारी कानून यूपीएसएसएफ भी ला रही है जिससे कोई आवाज भी न उठा सकें। इससे निपटने के लिए हमको व्यापक एकजुटता बनाना होगा जिससे हम नौजवानों के आंदोलन को मुकाम तक ले जा सकें।

इनौस के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने युवा स्वाभिमान पदयात्रा के समर्थन में लखनऊ, रायबरेली, चंदौली, गोरखपुर, बलिया समेत प्रदेश के अन्य कई जिलों में पदयात्रा, गोष्ठी व सभा आयोजित कर समर्थन देने की बात कही।

आइसा के प्रदेश अध्यक्ष शैलेश पासवान ने छात्रों युवाओं पर चैतरफा बढ़ रहे संकट को इंगित करते हुए कहा कि शिक्षा व रोजगार की लड़ाई को शहर से लेकर गांव तक लड़ने की जरूरत है इसके लिए इलाहाबाद, बनारस, लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्रों को आगे बढ़कर भूमिका लेनी होगी।

युवा स्वाभिमान मोर्चा ने किसानों व मजदूरों के प्राप्त अधिकार को संसद में कानून बनाकर खत्म करने की कड़ी निंदा करता है और किसानों-मजदूरों के आंदोलन का  पूर्ण समर्थन करता है।
स्वाभिमान मोर्चा के सहसंयोजक सुनील मौर्य ने छात्र -युवा संगठनों, प्रतियोगी आंदोलनों, छात्र-युवा नेताओं से पदयात्रा का समर्थन-सहयोग करने की अपील की।

 

बाबूलाल नागा
बाबूलाल नागाhttps://bharatupdate.com
हम आपको वो देंगे, जो आपको आज के दौर में कोई नहीं देगा और वो है- सच्ची पत्रकारिता। आपका -बाबूलाल नागा एडिटर, भारत अपडेट
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments