11.2 C
New York
Tuesday, April 16, 2024
Homeविविधआईआईटी जोधपुर और जोधपुर सिटी नॉलेज एंड इनोवेशन फाउंडेशन ने गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस...

आईआईटी जोधपुर और जोधपुर सिटी नॉलेज एंड इनोवेशन फाउंडेशन ने गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस और जनरल फाइनेंशियल रूल्स 2017 के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम किया शुरू

टीम भारत अपडेट, जोधपुर। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान जोधपुर और भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार कार्यालय द्वारा की गयी पहल के क्रम में जोधपुर सिटी नॉलेज एंड इनोवेशन फाउंडेशन (JCKIF) द्वारा गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM) और जनरल फाइनेंशियल रूल्स (GFR) 2017 के क्षेत्र में पेशेवर लोगों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इन दो विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रमों का उद्देश्य पेशेवर लोगों को गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM) और जनरल फाइनेंशियल रूल्स(GFR) 2017 के क्षेत्र में आवश्यक ज्ञान एवं कौशल से परिचित करवाना है। दोनों कार्यक्रमों के लिए पंजीकरण करने की अंतिम तिथि 9 जून 2023 है। जनरल फाइनेंशियल रूल्स (GFR) 2017 का कार्यक्रम 10 और 11 जून 2023 को आयोजित किया जाएगा जबकि, गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM) कार्यक्रम 17 और 18 जून 2023 को आयोजित किया जाएगा। इच्छुक उम्मीदवार GFR 2017 या GeM या दोनों के लिए अपना पंजीकरण नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से करा सकते हैं।https://docs.google.com/forms/d/e/1FAIpQLSfpcsVX9ZLaAgDznNBPcsZS1M5zwPGHSUk6SB4VqH1MLL1wfQ/viewform.

गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM) और जनरल फाइनेंशियल रूल्स(GFR) 2017 पर विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रमों में भाग लेकर पेशेवर व्यक्ति ज्ञान और कौशल प्राप्त कर सकते हैं जो कि GeM प्लेटफॉर्म का उपयोग करने और सरकारी विभागों में वित्तीय नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक हैं। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रतिभागियों को एक ठोस आधार प्रदान करेंगे। इन कार्यक्रमों से प्रतिभागी खरीद परिणामों का बेहतर अनुकूलन, पारदर्शिता को बढ़ावा, और वित्तीय मामलों का प्रभावी ढंग से प्रबंधन कर अपनी भूमिकाओं का प्रभावी ढंग से उपयोग कर सकेंगे और साथ ही इससे वह अपने संगठनों में सकारात्मक प्रभाव डालने के लिए सशक्त भी बनेंगे।

  • प्रशिक्षण में गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (जीईएम) और जनरल फाइनेंशियल रूल्स (जीएफआर) 2017 के क्षेत्र की जानकारी दी जायेगी
  • हाइब्रिडमोड में चलने वाला यह दो दिनों का विशेष कार्यक्रम है
  • आवेदकों की रुचि को देखते हुए आईआईटी जोधपुर ने पंजीकरण की अंतिम तिथि 5 जून 2023 से बढ़ाकर 9 जून 2023 करने का निर्णय लिया है।

यह दोनों विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम अनुभवी विषय विशेषज्ञों द्वारा संचालित किए जाएंगे जो प्रतिभागियों को व्यावहारिक अंतर्दृष्टि और वास्तविक दुनिया के अनुप्रयोगों के साथ आकर्षक व्याख्यान और केस स्टडी प्रदान करेंगे। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम सरकारी विभागों, सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों, शैक्षणिक संस्थानों में काम करने वाले पेशेवरों और GeM और GFR 2017 के क्षेत्र में अपने ज्ञान और कौशल को बढ़ाने में रुचि रखने वाले व्यक्तियों के लिए डिज़ाइन किए गए हैं।

यह प्रशिक्षण कार्यक्रम हाइब्रिड मोड में आयोजित किए जाएगा जिससे प्रतिभागियों को आईआईटी जोधपुर परिसर में व्यक्तिगत रूप से या वर्चुअल प्लेटफॉर्म के माध्यम से ऑनलाइन सत्र में भाग लेने की सुविधा मिल सकेगी। प्रतिभागियों को कार्यक्रमों के सफल समापन के बाद प्रमाण पत्र भी प्रदान किए जाएंगे। सभी उम्मीदवारों के लिए गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM) और जनरल फाइनेंशियल रूल्स (GFR) 2017 पर विशिष्ट प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए पंजीकरण लिंक अब खुल गया है। वर्तमान में वस्तुओं, कार्यों और सेवाओं की सार्वजनिक खरीद से संबंधित या संबद्ध होने की संभावना वाले अधिकारी और कर्मचारी इन कार्यक्रमों से लाभान्वित हो सकते हैं।

आईआईटी जोधपुर के बारे में

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान जोधपुर की स्थापना 2008 में भारत में प्रौद्योगिकी शिक्षा और अनुसंधान को बढ़ावा देने के लिए की गई थी। संस्थान भारत के आर्थिक विकास को लाभ पहुंचाने के लिए तकनीकी सोच और कार्यक्रम को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। आईआईटी जोधपुर की  तीन प्रेरक शक्तियाँ हैं जोकि शिक्षण और सीखने में छात्रवृत्ति; अनुसंधान और रचनात्मक उपलब्धियों में छात्रवृत्ति; और उद्योग के लिए अनुकूल शिक्षा प्रदान करना है।

आईआईटी जोधपुर राष्ट्रीय राजमार्ग 62 पर जोधपुर के उत्तर-पश्चिम में नागौर की ओर 852 एकड़ के अपने विशाल आवासीय स्थायी परिसर से कार्य करता है। इस परिसर को सावधानीपूर्वक नियोजित किया गया है और शिक्षाविदों के प्रतीक के रूप में खड़े होने की कल्पना की गई है। संस्थान और उद्योग संबंधों को मजबूत करने के लिए एक प्रौद्योगिकी पार्क के विकास के लिए स्थायी परिसर जोकि लगभग 182 एकड़ का है को अलग से रखा गया है।

संस्थान प्रौद्योगिकी विकास के एक बहु-विषयक दृष्टिकोण के लिए प्रतिबद्ध है। इसलिए इसने बुनियादी अनुसंधान के लिए अत्याधुनिक प्रयोगशालाओं की स्थापना की है और विभागों के माध्यम से अपनी एकेडमिक डिग्री गतिविधियों और प्रौद्योगिकी केंद्रों के माध्यम से इसके समन्वित अनुसंधान का आयोजन किया है।

Bharat Update
Bharat Update
भारत अपडेट डॉट कॉम एक हिंदी स्वतंत्र पोर्टल है, जिसे शुरू करने के पीछे हमारा यही मक़सद है कि हम प्रिंट मीडिया की विश्वसनीयता इस डिजिटल प्लेटफॉर्म पर भी परोस सकें। हम कोई बड़े मीडिया घराने नहीं हैं बल्कि हम तो सीमित संसाधनों के साथ पत्रकारिता करने वाले हैं। कौन नहीं जानता कि सत्य और मौलिकता संसाधनों की मोहताज नहीं होती। हमारी भी यही ताक़त है। हमारे पास ग्राउंड रिपोर्ट्स हैं, हमारे पास सत्य है, हमारे पास वो पत्रकारिता है, जो इसे ओरों से विशिष्ट बनाने का माद्दा रखती है।
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments