18.4 C
New York
Sunday, March 3, 2024
Homeविविधमनोरंजनदिलप्रीत ने सोनी सब के दिल दियां गल्लां में वीर और अमृता...

दिलप्रीत ने सोनी सब के दिल दियां गल्लां में वीर और अमृता की प्रेम कहानी में क्यूपिड की भूमिका निभाई

टीम भारत अपडेट। सोनी सब का पारिवारिक शो दिल दियां गल्लां एक ही परिवार की कई पीढ़ियों के रिश्तों को चित्रित करता है। आपसी गलतफहमियों, भावनात्मक दर्द और परिवार के सदस्यों के बीच शारीरिक दूरी के कारण यह परिवारअलग-थलग हो गया है। पहली दो पीढ़ियां अपनी शिकायतों पर कायम हैं। ऐसे में तीसरी पीढ़ी हस्तक्षेप करती है और उन्हें अपने अतीत का सामना करने और रिश्ते सुधारने की यात्रा शुरू करने को मजबूर करती है। आगामी एपिसोड्स में दर्शक दिलप्रीत (पंकज बेरी) और संजोत (जसजीत बब्बर) को महत्वपूर्ण निर्णय लेते देखेंगे, जोबराड़ परिवार के जीवन को हमेशा के लिए बदल देगा।

मनदीप (संदीप बासवाना) के घर लौटते ही पूरे घर में कोहराम मचा है। मनदीप और दिलप्रीत के खाने-पीने की
पसंद-नापसंद का मेल कराने और उनके बीच के झगड़ों को सुलझाने की कोशिश करने में बराड़ परिवार ने
जमीन-आसमान एक कर रखा है। हालांकि, परिवार की छोटी बहू निमृत (कनिका माहेश्वरी) लगातार ऐसी
योजनाएं बना रही है कि मनदीप और उसका परिवार घर छोड़ने को मजबूर हो जाए। इस अराजकता के बीच
दिलप्रीत को पता चलता है कि वीर (पारस अरोड़ा) और अमृता (कावेरी प्रियम) को आपस में प्यार हो गया है।
वह होली पर शूट किया गया एक वीडियो देख लेता है, जिसमें वे एक-दूसरे के लिए अपना प्यार कबूल करते हैं।
ऐसे में दिलप्रीत स्थितियों को अपने हाथों में लेने का फैसला करता है और वीर और अमृता को एक-दूसरे के
करीब लाने में मदद करने की योजना बनाता है।
क्या प्लान कर रहा है दिलप्रीत? क्या वह इस योजना को अकेले अंजाम देंगे या वह संजोत की मदद लेगा?
दिलप्रीत का किरदार निभा रहे पंकज बेरी ने बताया, ‘बराड़ परिवार में लंबे समय से खुशियां नहीं आई हैं और अब वह इसका अनुभव करने वाला है क्योंकि दिलप्रीत ने वीर और अमृता में एक-दूसरे के बीच प्यार को खोज
लिया है। यह समय है कि मेरा किरदार दिलप्रीत स्थिति को अपने हाथों में लें और वीर व अमृता को करीब लाए
और प्रशंसकों को आश्वस्त करें कि उनका लंबा इंतजार जल्द ही खत्म हो जाएगा।
Bharat Update
Bharat Update
भारत अपडेट डॉट कॉम एक हिंदी स्वतंत्र पोर्टल है, जिसे शुरू करने के पीछे हमारा यही मक़सद है कि हम प्रिंट मीडिया की विश्वसनीयता इस डिजिटल प्लेटफॉर्म पर भी परोस सकें। हम कोई बड़े मीडिया घराने नहीं हैं बल्कि हम तो सीमित संसाधनों के साथ पत्रकारिता करने वाले हैं। कौन नहीं जानता कि सत्य और मौलिकता संसाधनों की मोहताज नहीं होती। हमारी भी यही ताक़त है। हमारे पास ग्राउंड रिपोर्ट्स हैं, हमारे पास सत्य है, हमारे पास वो पत्रकारिता है, जो इसे ओरों से विशिष्ट बनाने का माद्दा रखती है।
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments