18.4 C
New York
Sunday, March 3, 2024
Homeविविधमनोरंजन'पठान' ने दुनिया भर में 600 करोड़ की कमाई का आंकड़ा पार...

‘पठान’ ने दुनिया भर में 600 करोड़ की कमाई का आंकड़ा पार किया, फ़िल्म की ऐतिहासिक कामयाबी का सिलसिला अभी जारी है

टीम भारत अपडेट। सिद्धार्थ आनंद के डायरेक्शन में बनी यश राज फ़िल्म्स की ‘पठान’ घरेलू और विदेशी बॉक्स ऑफिस पर रिकॉर्ड तोड़ कमाई कर रही है और इस फ़िल्म ने सिर्फ 6 दिनों में दुनिया भर में 591 करोड़ का कलेक्शन किया है! रिलीज़ के छठे दिन भारत में पठान का नेट कलेक्शन 26.50 करोड़ रुपये (हिंदी – 25.50 करोड़ रुपये, डब किए गए फॉर्मेट में – 1.00 करोड़ रुपये) था, और इस तरह भारत में फ़िल्म ने कुल 32 करोड़ रुपये की कमाई की। रिलीज़ के छठे दिन ओवरसीज कलेक्शन कुल मिलाकर 16 करोड़ रुपये दर्ज किया गया। इन 6 दिनों में, पठान ने सिर्फ विदेशों में 27.56 मिलियन डॉलर (224.6 करोड़ रुपये) का कलेक्शन किया है, जबकि भारत में इसका नेट कलेक्शन 307.25 करोड़ रुपये (हिंदी – 296.50 करोड़ रुपये, डब – 10.75 करोड़ रुपये) है।
इस तरह, आज पठान ने कई रिकॉर्ड बनाए क्योंकि यह सबसे तेजी से 300 करोड़ के NBOC आंकड़े को पार करने वाली हिंदी फ़िल्म बन गई है और फ़िल्म ने रिलीज़ के छठे दिन ही यह कामयाबी हासिल की। साथ ही, यह महामारी के बाद से लेकर अब तक 300 करोड़ के नेट बैरियर को पार करने वाली पहली हिंदी फ़िल्म भी बन गई है! इस शानदार नतीजे के साथ ही YRF के स्पाई यूनिवर्स की सभी फिल्में – ‘एक था टाइगर’, ‘टाइगर जिंदा है’, ‘वॉर’ और ‘पठान’ ब्लॉकबस्टर की सूची में शामिल हो गईं हैं!
पठान थिएटर में देखने लायक बेहद मनोरंजक फ़िल्म है और देश भर के दर्शक इस फ़िल्म का भरपूर आनंद ले रहे हैं। फ़िल्म ‘पठान’ आदित्य चोपड़ा के स्पाई यूनिवर्स का हिस्सा है, जिसमें देश के सबसे बड़े सुपरस्टार शाहरुख़ ख़ान, दीपिका पादुकोण और जॉन अब्राहम ने मुख्य किरदार निभाए हैं।
Bharat Update
Bharat Update
भारत अपडेट डॉट कॉम एक हिंदी स्वतंत्र पोर्टल है, जिसे शुरू करने के पीछे हमारा यही मक़सद है कि हम प्रिंट मीडिया की विश्वसनीयता इस डिजिटल प्लेटफॉर्म पर भी परोस सकें। हम कोई बड़े मीडिया घराने नहीं हैं बल्कि हम तो सीमित संसाधनों के साथ पत्रकारिता करने वाले हैं। कौन नहीं जानता कि सत्य और मौलिकता संसाधनों की मोहताज नहीं होती। हमारी भी यही ताक़त है। हमारे पास ग्राउंड रिपोर्ट्स हैं, हमारे पास सत्य है, हमारे पास वो पत्रकारिता है, जो इसे ओरों से विशिष्ट बनाने का माद्दा रखती है।
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments