26.8 C
New York
Sunday, May 26, 2024
Homeदेश-दुनियालोकसभा चुनावः राजस्थान में दूसरे चरण के 152 में से 25 प्रत्याशी...

लोकसभा चुनावः राजस्थान में दूसरे चरण के 152 में से 25 प्रत्याशी दागी

-बाबूलाल नागा

लोकतांत्रिक व्यवस्था में हर व्यक्ति को चुनाव लड़ने का हक है। बशर्ते वह भारत का नागरिक होना चाहिए। चुनाव लड़ने वालों से ऐसी उम्मीद की जाती है कि वे स्वच्छ छवि के लोग हों ताकि सरकार की बागडोर योग्य और ईमानदार व्यक्तियों के हाथों में रहे। कई जगह ऐसे उदाहरण देखने को मिलते हैं जब आपराधिक किस्म के व्यक्ति भी चुनावों में खड़े होते हैं और चुनाव जीतकर सरकार का हिस्सा बन जाते हैं। आपराधिक मुकदमों की सुनवाई कोर्ट में कई सालों तक चलती रहती है और नेताजी शासन का स्वाद लेते रहते हैं। हालांकि कुछ नेताओं के खिलाफ राजनैतिक द्वैषता के कारण भी मुकदमे दर्ज करा दिए जाते हैं लेकिन ऐसे उदाहरण कम ही देखने को मिलते हैं। भारतीय राजनीति में आपने और हमने ऐसे कई नेताजी देखें हैं जिनके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, दुष्कर्म और धोखाधड़ी जैसी गंभीर धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं। इसके बावजूद भी वे शासन का हिस्सा होते हैं।

 25 प्रत्याशियों के खिलाफ आपराधिक मुकदमे दर्ज--राजस्थान में दूसरे चरण के तहत 26 अप्रैल को प्रदेश के 13 लोकसभा क्षेत्रों में चुनाव है। इनमें अजमेर, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़, जालौर, बाड़मेर, भीलवाड़ा, झालावाड़-बारां, राजसमंद, टोंक-सवाई माधोपुर, जोधपुर, कोटा, पाली और उदयपुर शामिल है। मतदान 26 अप्रैल को होगा। दूसरे चरण के दौरान कुल 152 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। इन 152 में से 25 प्रत्याशी ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। 16 प्रत्याशियों के खिलाफ तो गंभीर धाराओं के केस दर्ज हैं। यहां गंभीर धाराओं का मतलब गैर जमानती अपराध और उन मामलों से हैं जिनमें 5 साल या उससे ज्यादा की सजा का प्रावधान है।

खुद प्रत्याशियों ने दी है आपराधिक मामलों की जानकारी- चुनाव प्रक्रिया में हिस्सा ले रहे सभी प्रत्याशियों ने अपने अपने नामांकन पत्रों के साथ शपथ पत्र जमा कराया था। इन शपथ पत्रों में खुद प्रत्याशी की ओर से सभी तरह की जानकारियां दी गई है। प्रत्याशियों के खिलाफ दर्ज आपराधिक प्रकरणों का पूरा ब्यौरा भी शपथ पत्र में दिया गया है। एडीआर और राजस्थान इलेक्शन वॉच की ओर से इन शपथ पत्रों का विश्लेषण करके आपराधिक पृष्ठभूमि वाले प्रत्याशियों की रिपोर्ट जारी की है।

16 उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले- एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार कुल 152 उम्मीदवारों में 16 प्रतिशत यानी 25 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले होने की जानकारी दी है। इनमें भाजपा व कांग्रेस के तीन-तीन प्रत्याशी हैं। इनके अलावा अन्य दलों के 9 व 10 निर्दलीय प्रत्याशी हैं। 11 प्रतिशत यानी 16 प्रत्याशियों ने अपने खिलाफ गंभीर प्रकार के आपराधिक मामले होने की जानकारी दी हैं। इनमें सर्वाधिक कांग्रेस के तीन उम्मीदवार हैं। शेष 13 में से सात निर्दलीय व शेष 6 उम्मीदवार अन्य दलों के हैं। भाजपा के एक भी उम्मीदवार के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामला नहीं चल रहा है।

पहले चरण के हुए मतदान में 10 प्रतिशत उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले, सात पर गंभीर- 19 अप्रैल को राजस्थान में पहले चरण में 12 लोकसभा सीटों पर चुनाव संपन्न हुआ। इन 12 सीटों के लिए पहले चरण में कुल 114 उम्मीदवार मैदान में हैं। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) ने इनमें से 113 उम्मीदवारों के शपथ पत्र का विश्लेषण किया है। एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक, 113 में से 11 उम्मीदवारों पर आपराधिक मुकदमे हैं। इनमें से सात पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। भाजपा के 12 में से सिर्फ एक उम्मीदवार पर आपराधिक मुकदमा दर्ज है। वहीं, कांग्रेस के दस में से तीन उम्मीदवारों पर आपराधिक मामला दर्ज है। कांग्रेस और आरएलपी के एक-एक उम्मीदवार पर गंभीर मामला दर्ज है। जयपुर ग्रामीण से कांग्रेस उम्मीदवार अनिल चोपड़ा पर आठ मामले दर्ज हैं।

दूसरे चरण में 21 फीसदी उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज-लोकसभा के दूसरे चरण का मतदान देश के 13 राज्यों की 89 सीटों पर 26 अप्रैल को होगा। इस दौरान 1,198 उम्मीदवारों की किस्मत दांव पर होगी। दूसरे चरण में 21 फीसदी उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। एडीआर और नेशनल इलेक्शन वॉच ने लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में खड़े 1,198 उम्मीदवारों में से 12 राज्यों के 1,192 उम्मीदवारों के शपथ पत्रों का विश्लेषण किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, इनमें से 21 प्रतिशत या 250 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। 167 यानी 14 फीसदी उम्मीदवारों ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। वहीं तीन पर हत्या के आरोप भी हैं। सबसे ज्यादा कांग्रेस के 35 प्रत्याशियों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं।

 

बाबूलाल नागा
बाबूलाल नागाhttps://bharatupdate.com
हम आपको वो देंगे, जो आपको आज के दौर में कोई नहीं देगा और वो है- सच्ची पत्रकारिता। आपका -बाबूलाल नागा एडिटर, भारत अपडेट
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments